COUGH COLD CARE KIT ( SITOPLADI CHURNA 250G + GOJIWAHDI KWATH KAN 250G )

Sold by: kartjet
0 sold

783.00

कफ कोल्ड केयर किट एक ऐसी किट हैं जो आपको समस्त प्रकार की सर्दी, जुखाम, खांसी और कफ आदि रोगो को ठीक करती हैं साथ ही ये आपके शरीर में रोगो से लड़ने की शक्ति को भी बढ़ती हैं, इस किट में दो मुख्य आयुर्वेदिक उत्पादन गोजीव्हादि क्वाथ कण और सितोपलादि चूर्ण हैं तो आइये जानते इन प्रोडक्ट्स के बारे में –

कामधेनु गोजीवाहदी क्वाथ कण एक ऐसा आयुर्वेदिक उत्पाद हैं जो सर्दी जुखाम खांसी में रामबाण का काम करता हैं, पुराने और बार बार होने वाले जुकाम मैं इसके सेवन से अच्छा लाभ होता है। इसके अलावा यह पुरानी बिगड़ी हुई खांसी और अस्थमा में बहुत लाभप्रद हैं.

कामधेनु सितोपलादि चूर्ण श्वसन तंत्र से सम्बंधित समस्याओं जैसे – अस्थमा, जुकाम, खांसी, कफज बुखार आदि में इसका प्रचुरता से उपयोग किया जाता है | पाचन सम्बन्धी रोगों में भी यह काफी फायदेमंद है | पेट में जलन, भूख कम लगना, छाती में जलन और पित्त विकारों में सितोपलादि चूर्ण का इस्तेमाल लाभदायक होता है | अगर आपको सुखी खांसी, तर खांसी, गले में खरास, अस्थमा, श्वास और टी.बी. जैसे रोग भी है तो इस चूर्ण के सेवन से इन रोगों से मुक्ति मिलती है | श्वास रोग, फेफड़े कमजोर या जिन्हें सर्दियों में कफ की अधिक शिकायत रहती हो वे भी इसका सेवन कर सकते है | सुखी खांसी, कफयुक्त खांसी, अधिक बलगम और कफज व्याधि के कारण आई बुखार में भी इसका सेवन फायदेमंद है
सेवन विधि : गोजिवाहदी क्वाथ कण को गर्म पानी में एक चम्मच डालकर

कफ कोल्ड केयर किट एक ऐसी किट हैं जो आपको समस्त प्रकार की सर्दी, जुखाम, खांसी और कफ आदि रोगो को ठीक करती हैं साथ ही ये आपके शरीर में रोगो से लड़ने की शक्ति को भी बढ़ती हैं, इस किट में दो मुख्य आयुर्वेदिक उत्पादन गोजीव्हादि क्वाथ कण और सितोपलादि चूर्ण हैं तो आइये जानते इन प्रोडक्ट्स के बारे में –

कामधेनु गोजीवाहदी क्वाथ कण एक ऐसा आयुर्वेदिक उत्पाद हैं जो सर्दी जुखाम खांसी में रामबाण का काम करता हैं, पुराने और बार बार होने वाले जुकाम मैं इसके सेवन से अच्छा लाभ होता है। इसके अलावा यह पुरानी बिगड़ी हुई खांसी और अस्थमा में बहुत लाभप्रद हैं.

कामधेनु सितोपलादि चूर्ण श्वसन तंत्र से सम्बंधित समस्याओं जैसे – अस्थमा, जुकाम, खांसी, कफज बुखार आदि में इसका प्रचुरता से उपयोग किया जाता है | पाचन सम्बन्धी रोगों में भी यह काफी फायदेमंद है | पेट में जलन, भूख कम लगना, छाती में जलन और पित्त विकारों में सितोपलादि चूर्ण का इस्तेमाल लाभदायक होता है | अगर आपको सुखी खांसी, तर खांसी, गले में खरास, अस्थमा, श्वास और टी.बी. जैसे रोग भी है तो इस चूर्ण के सेवन से इन रोगों से मुक्ति मिलती है | श्वास रोग, फेफड़े कमजोर या जिन्हें सर्दियों में कफ की अधिक शिकायत रहती हो वे भी इसका सेवन कर सकते है | सुखी खांसी, कफयुक्त खांसी, अधिक बलगम और कफज व्याधि के कारण आई बुखार में भी इसका सेवन फायदेमंद है
सेवन विधि : गोजिवाहदी क्वाथ कण को गर्म पानी में एक चम्मच डालकर

Vendor Information

  • No ratings found yet!